National Wheels

प्रदेश मानवाधिकार संगठन ने किया एडीजी प्रेम प्रकाश को सम्मानित

प्रदेश मानवाधिकार संगठन ने किया एडीजी प्रेम प्रकाश को सम्मानित

प्रयागराज ।

1993 बैच के आईपीएस और उत्तर प्रदेश के तेजतर्रार पुलिस अधिकारियों में शुमार प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश को जनता के प्रति उनके कार्यों को देखते हुए प्रदेश मानवाधिकार संगठन ने सम्मानित किया है।
संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अरविंद सिंह ने राष्ट्रीय संयोजक शांडिल्य महाराज व प्रदेश मीडिया प्रभारी सौरभ सोमवंशी के साथ प्रयागराज स्थित उनके कार्यालय पर उन्हें सम्मानित किया।
इस अवसर पर पत्रकार सौरभ सोमवंशी ने बांदा के पूर्व जिला अधिकारी और वर्तमान में नेशनल हेल्थ मिशन के एडीशनल डायरेक्टर डॉ हीरालाल के द्वारा लिखित पुस्तक डायनामिक डीएम उनको भेंट किया। एडीजी प्रेम प्रकाश की गिनती उत्तर प्रदेश के तेजतर्रार पुलिस अधिकारियों में होती है पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब जेल से बांदा जेल लाने की जिम्मेदारी सरकार ने उन्हें ही सौंपी थी। प्रेम प्रकाश की पुलिस महकमे में अपनी अलग पहचान है। प्रेम प्रकाश ने बीटेक करने के बाद पुलिस मैनेजमेंट में एमडी का कोर्स किया है वह लखनऊ,आगरा, मुरादाबाद,प्रतापगढ़ व एनसीआर क्षेत्र के कई जिलों में बतौर पुलिस अधीक्षक काम कर चुके हैं।प्रेम प्रकाश अपने सख्त रवैये के लिए भी जाने जाते हैं। कानपुर में एडीजी रहते हुए उन्होंने पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर अपराधियों के खिलाफ अभियान शुरू किया जिसमें तमाम अपराधियों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजा गया ।
सांप्रदायिक दृष्टि से संवेदनशील बरेली में भी एडीजी के तौर पर काम कर चुके प्रेम प्रकाश अपने कार्यालय में बैठकर स्वयं फरियादियों की बात सुनते हैं और तत्काल उनकी समस्या का समाधान करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.