National Wheels

निर्देशक सावन कुमार टाक का हार्ट अटैक से निधन, संजीव कुमार से सलमान तक के साथ किया था काम


Saawan Kumar Tak Passed Away : जाने-माने फिल्म‌ निर्माता, निर्देशक, गीतकार और लेखक सावन कुमार टाक का मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में आज शाम तकरीबन 4.15 बजे निधन हो गया. सावन कुमार के भांजे और फिल्म निर्माता नवीन टाक ने एबीपी न्यूज़ को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया, “डॉक्टरों के मुताबिक, हार्ट अटैक और मल्टीपल-ऑर्गन फेलियर के चलते उनका निधन हुआ है.”

नवीन टाक ने एबीपी न्यूज़ को आगे बताया, “86 साल के सावन कुमार टाक लंबे समय से फेफड़े संबंधी बीमारी से ग्रसित थे. पिछले कई दिनों से उन्हें काफी कमजोरी महसूस हो रही थी और उन्हें बुखार सा महसूस हो रहा था. हमें लगा कि उन्हें न्यूमोनिया हुआ होगा, लेकिन अस्पताल में भर्ती कराने के बाद पता चला कि उनके फेफड़े पूरी तरह से खराब हो चुके हैं. आईसीयू में इलाज के लिए भर्ती सावन कुमार का हृदय भी ठीक से काम नहीं कर रहा था. ऐसे में उनकी हालत काफी नाजुक बनी हुई थी.”

मीना कुमारी के साथ बना थी फिल्म 
बता दें कि अपने चार दशक से भी लंबे करियर में संजीव कुमार से लेकर सलमान खान जैसे तमाम बड़े-बड़े सितारों के साथ काम किया था. सावन कुमार टाक ने एक निर्माता के तौर पर अपनी पहली फिल्म नौनिहाल बनाई थी, जिसमें संजीव कुमार ने भी एक अहम भूमिका निभाई थी. सावन कुमार टाक ने एक निर्देशक के तौर पर अपनी पहली फिल्म अभिनेत्री मीना कुमारी के साथ बनाई थी जो 1972 में रिलीज हुई थी और फिल्म का नाम था गोमती के किनारे. उन्होंने संजीव कुमार, मीना कुमारी के अलावा  राजेश खन्ना, जीतेंद्र, श्रीदेवी, जया प्रदा, सलमान खान जैसे तमाम बड़े सितारों के साथ काम कर बड़ी-बड़ी हिट फिल्में दीं.

इन यादगार फिल्मों का किया निर्देशन
इनके अलावा जिन फिल्मों के निर्माण और निर्देशन का श्रेय उन्हें जाता है उनमें हवस, सौतन, साजन बिन सुहागन, सौतन की बेटी, सनम बेवफा, बेवफा से वफा, खलनायिका, मां, सलमा पे दिल आ गया, सनम हरजाई, चांद का टुकड़ा जैसी फिल्मों का शुमार है. सावन कुमार को महिलाप्रधान फिल्मों को बनाने के लिए जाना जाता रहा है. 

राजस्थान के जयपुर में जन्मे सावन कुमार टाक को फिल्मों के निर्माण और निर्देशन के अलावा शायरी और गीत लिखने का भी बहुत शौक रहा है. ऐसे में उन्होंने अपनी फिल्मों के अलावा दूसरे फिल्मकारों के लिए भी उनकी कई फिल्मों के लिए गीत लिखे जिनमें से कई सुपरहिट साबित हुए.

सावन कुमार ने लिखे ये सुपरहिट गाने
सावन कुमार टाक का लिखा और  शत्रुघ्न सिन्हा और पूनम सिन्हा पर फिल्माया फिल्म सबक (1973) का गाना ‘बरखा रानी जरा जमके बरसो’, सावन कुमार टाक के ही निर्देशन में बनी फिल्म सौतन (1983) का उनका लिखा गीत ‘जिंदगी प्यार का गीत है’ और उन्हीं की फिल्म ‘हवस’ में उनका लिखा गाना ‘तेरी गलियों में ना रखेंगे कदम’ काफी लोकप्रिय हुआ था. हीरो के तौर पर रितिक रोशन की पहली फिल्म कहो ना प्यार है (2000) के कुछ गीत लिखने का श्रेय भी सावन कुमार टाक को जाता है.

लता मंगेशकर की संगीतकार ऊषा मंगेशकर ने सावन कुमार टाक की कई फिल्मों में हिट संगीत दिया था. दोनों ने कुछ साल बाद शादी भी कर ली थी मगर दोनों का ये रिश्ता ज्यादा नहीं चला और जल्द ही दोनों में तलाक हो गया था. दोनों की कोई संतान नहीं है. सावन कुमार टाक के भांजे नवीन टाक ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि उनके मामा का अंतिम संस्कार आज ही कर दिया जाएगा और जिसे लेकर तैयारियां चल रहीं है.

KBC 14: 50 लाख के सवाल पर अटके कंटेस्टेंट ने फिल्मी अंदाज में कह डाली ऐसी बात, Amitabh Bachchan ने कुछ यूं किया रिएक्ट

The Kapil Sharma Show Promo: कॉमेडी का ओवरडोज लिए लौट आया ‘द कपिल शर्मा शो’, इस दिन से शुरू होगा नया सीजन

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.