National Wheels

देश में बुखार की Paracetamol जैसी ये जरुरी दवाएं होंगी सस्ती

देश में बुखार की Paracetamol जैसी ये जरुरी दवाएं होंगी सस्ती

सरकार ने बीमारी से जूझ रही जनता और बढ़ते इलाज के खर्च को कम करने पर नए साल के लिए अच्छी खबर दी है। भारत में अधिकाशं मात्रा में इस्तेमाल होने वाली Paracetamol जैसी अन्य दवाओं की कीमतों में कमी होगी। दवाओं की कीमत पर नजर रखने वाली संस्था नेशनल फर्मास्युटिकल प्राइजिंग अथॉरिटी (NPPA) ने कुछ दवाओं के रेट सस्ते किए हैं। इसके साथ ही मरीजों की सुविधा के लिए सरकार ने 107 दवाओं की कीमतों की सीमा भी तय किया है। वहीं सरकार ने साल 2022 में लगातार पांचवीं बार दवाओं के रेट कम किए हैं। इस लेख में जाानिए किन दवाओं की कीमतें कितनी सस्ती होगी।

जानिए बुखार और संक्रमण की दवाएं हुई सस्ती

सर्दी और बुखार में उपयोग होने वाली दवा पैरासीटामॉल 650 mg की कीमत पहले 2.3 रुपये प्रति टैबलट की दर से मिलती थी, वहीं अब नई कीमत के साथ पैरासीटामॉल दवा 1.8 रुपये प्रति टैबलेट के रेट से मिलेगी। वहीं जीवाणु संक्रमण के उपचार में मदद करने वाली Potassium Clavulanate दवा की कीमत 22.3 रुपए प्रति टैबलेट से कम होकर 16.8 रुपए प्रति टैबलेट हुई है। इसके साथ ही जीवाण्विक संक्रमण में इस्तेमाल होने वाली 400 mg moxifloxacin दवा की कीमत 31.5 रुपए प्रति टैबलेट से कम होकर 22.8 रुपए प्रति टैबलेट होगी। ऐसे कई अन्य दवाओं की कीमतों में भी कमी होगी।

107 दवाओं की कीमतों की सीमा तय

सरकार ने हल्के दर्द और बुखार में उपयोग होने वाली दवा Paracetamol, टाइप 2 डायबिटीज में इस्तेमाल होने वाली Amoxicillin दवा और बैक्टीरियल संक्रमण के इलाज के लिए Metaformin 500mg जैसे अन्य 107 दवाओं की कीमतों की सीमा तय की गई है। वहीं दर्द, बुखार और जुकाम की पैरासीटामॉल जैसी कई अन्य दवाओं की कीमतों में सरकार ने इस साल दूसरी बार कीमतें तय की है। इसके साथ ही 107 दवाओं की कीमतें तय होने गंभीर बीमारियों कैंसर, डायबिटीज, बुखार, हेपेटाइटिस सहित कई अन्य दवाओं की कीमतों में 40% तक की कमी होगी। इन 107 दवाओं की सूची नेशनल फर्मास्युटिकल प्राइजिंग अथॉरिटी ने जारी कर दी है।

बता दें कि आम तौर पर नई कीमतों के साथ दवाओं को बाजार में लाने के लिए लगभग एक माह का समय लगता है। इसलिए दवाओं के प्राइस टैग की नई कीमतें जनवरी माह के अंत से लागू होगी। वहीं दर्द, बुखार और जुकाम की पैरासीटामॉल जैसी कई अन्य दवाओं की कीमतों में इस साल दूसरी बार कमी देखी गई है। इसके पहले सरकार ने जुलाई 2022 में ही 84 दवाओं की कीमतें तय की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.