National Wheels

चिप टेकर से मेकर बनेगा भारत, गुजरात में ₹1.54 लाख करोड़ के निवेश से सेमीकंडक्टर प्लांट लगाएगा वेदांता समूह

चिप टेकर से मेकर बनेगा भारत, गुजरात में ₹1.54 लाख करोड़ के निवेश से सेमीकंडक्टर प्लांट लगाएगा वेदांता समूह

दिल्ली : सेमीकंडक्टर के लिए चीन और ताइवान पर निर्भर भारत अब इस मामले में आत्मनिर्भर हो सकता है। वेदांता समूह में ताइवान की कंपनी फॉक्सकॉन के साथ गुजरात में सेमीकंडक्टर प्लांट लगाने का ऐलान किया है किस पर कंपनी ₹1.54 लाख करोड़ का निवेश करेगी। वेदांता समूह के मुखिया अनिल अग्रवाल ने कहा है कि यह ऐतिहासिक निवेश भारत को आत्मनिर्भर सिलिकॉन वैली बनाने में मदद करेगा।

अनिल अग्रवाल ने लगातार चार ट्वीट कर वेदांता समूह के इस फैसले की जानकारी दी है। उन्होंने लिखा कि इतिहास बन जाता है! यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि गुजरात में नया वेदांत-फॉक्सकॉन सेमीकंडक्टर प्लांट स्थापित किया जाएगा। वेदांता का ₹1.54 लाख करोड़ का ऐतिहासिक निवेश भारत की #आत्मानबीर सिलिकॉन वैली को एक वास्तविकता बनाने में मदद करेगा।

कहा कि यह परियोजना भारत में एक मजबूत विनिर्माण आधार बनाने के माननीय प्रधान मंत्री @narendramodi के दृष्टिकोण को पूरा करने में मदद करेगी। यह हमारे इलेक्ट्रॉनिक्स आयात को कम करेगा और हमारे लोगों को 1 लाख प्रत्यक्ष कुशल रोजगार प्रदान करेगा।

नौकरी चाहने वालों से नौकरी देने वालों तक !

अनिल अग्रवाल ने लिखा कि गुजरात सरकार और केंद्रीय आईटी मंत्री को मेरा गहरा आभार, जिन्होंने वेदांता को इतनी जल्दी चीजों को जोड़ने में मदद की है। भारत का #tech पारिस्थितिकी तंत्र फलेगा-फूलेगा।  जिससे हर राज्य नए इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण केंद्रों के माध्यम से लाभान्वित होगा।

कहा कि भारत की अपनी सिलिकॉन वैली अब एक कदम और करीब है। #भारत न केवल अपने लोगों की, बल्कि समुद्र के पार के लोगों की भी डिजिटल जरूरतों को पूरा करेगा। चिप टेकर से चिप मेकर बनने का सफर आधिकारिक तौर पर शुरू हो गया है…जय हिंद!

यहां गौरतलब है कि मोबाइल से लेकर वाहन निर्माण उद्योग सेमीकंडक्टर की कमी से हलकान है। इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के समय से न मिलने के कारण वाहन निर्माण उद्योग ग्राहकों की मांग को समय से पूरा नहीं कर पा रहा है। महीने 15 दिन की वेटिंग अब पांच छह महीने तक पहुंच रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोबाइल निर्माण के साथ ही सेमीकंडक्टर निर्माण के क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई योजनाओं की घोषणा कर उद्यमियों को आकर्षित करने की कोशिश की है। वेदांता समूह का यह निर्णय भी उसी का परिणाम माना जा रहा है। समूह के मुखिया अनिल अग्रवाल ने सरकार के प्रयासों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आईटी मंत्री अश्वनी वैष्णव, उद्योग मंत्री पीयूष गोयल समेत गुजरात सरकार के प्रति भी आभार जताया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.