National Wheels

कौंधियारा के कंपोजिट विद्यालय टिकरी अकोढ़ा में 28 क्विंटल राशन का घोटाला, जांच SDM को

कौंधियारा के कंपोजिट विद्यालय टिकरी अकोढ़ा में 28 क्विंटल राशन का घोटाला, जांच SDM को

प्रयागराज: कौंधियारा विकास खंड के कंपोजिट विद्यालय टिकरी अकोढ़ा का खाद्यान्न घोटाला अब बेसिक शिक्षा विभाग की चार दीवारी फांदकर प्रशासनिक हल्के में पहुंच गया है। एसडीएम करछना ने प्रकरण की जांच शुरू कर दी है। 27 क्विंटल से अधिक राशन का घोटाला करने का आरोप विद्यालय के ही सहायक अध्यापक कमल कुमार सिंह पर लगा है। जानकारी में आया है कि प्रकरण में सहायक अध्यापक के खिलाफ शपथपत्र दे चुका कोटेदार अब स्थानीय प्रभाव में बयान बदल सकता है।

चार जुलाई को समाजसेवी नीरज चौहान ने मंडलायुक्त से शिकायत कर आरोप लगाया है कि कौंधियारा के कम्पोजिट विद्यालय टिकरी-अकोढ़ा के सहायक अध्यापक कमल कुमार सिंह ने 28 क्वींटल खाद्यान्य का घोटाला किया है।

उनका कहना है कि कंपोजिट विद्यालय के सहायक अध्यापक पूर्व में प्राथमिक विद्यालय टिकरी के प्रधानाध्यापक थे, परंतु संविलियन के बाद वह कंपोजिट विद्यालय टिकरी अकोढ़ा के सहायक अध्यापक रह गए। कंपोजिट विद्यालय की प्रधानाध्यापक पद पर सुषमा कुमारी नियुक्ति हुईं। इसके बाद भी शिक्षक कमल कुमार सिंह प्रधानाध्यापक और कोटेदार को अंधेरे में रखकर विद्यालय का गल्ला उठाते रहे। प्रधानाध्यापिका के ऐतराज और शिकायत के बाद विद्यालय में मारपीट, हंगामा सब कुछ हुआ। कमल कुमार सिंह प्रकरण में बीएसए द्वारा निलंबित और बहाल भी हुए लेकिन खाद्यान्न घोटाले की जांच अधर में ही रही।

अब एसडीएम करछना रेनू सिंह ने आरोपी शिक्षक को नोटिस देकर जवाब मांगा है।

आरोपी शिक्षक कमल कुमार सिंह प्रायः विवादों में रहे हैं तथा पूर्व में कई बार निलंबित हो चुके हैं। सम्बंधित कोटेदार द्वारा इस सम्बंध में विभागीय अधिकारी को शपथपत्र भी दिया गया है। कोटेदार एक वीडियो के माध्यम से अपने बयान में इस तथ्य को स्वीकार भी कर रहे हैं कि उक्त अवधि का राशन सहायक अध्यापक कमल कुमार सिंह ने उनसे प्राप्त किया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.