National Wheels

‘ओलोंगा की उस गेंद पर आउट होने के बाद सो तक नहीं पाए थे सचिन’, अजय जडेजा ने सुनाया किस्सा


Ajay Jadeja on Sachin Tendulkar: पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा (Ajay Jadeja) ने भारत और जिम्बाब्वे (IND vs ZIM) के बीच 24 साल पुराने एक मैच से जुड़ा किस्सा सुनाया है. यह किस्सा 1998 में हुई कोको कोला चैंपियंस ट्रॉफी का है. इस ट्राई सीरीज के ग्रुप स्टेज के आखिरी मुकाबले में जिम्बाब्वे ने भारत को 13 रन से शिकस्त दी थी. उस मैच में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) जिम्बाब्वे के तेज गेंदबाज हेनरी ओलोंगा (Henry Olonga) की एक शॉर्ट पिच गेंद पर आउट हो गए थे. अजय जडेजा बताते हैं कि इसके बाद सचिन तेंदुलकर दो दिन तक ठीक से नहीं सो पाए थे.

सोनी सिक्स के साथ बातचीत करते हुए अजय जडेजा ने बताया, ‘उस गेंद ने सचिन को बदल डाला था. हम बहुत खुशनसीब हैं कि हमें उनके साथ खेलने का मौका मिला. वह अहंकारी शख्स नहीं थे लेकिन वह अपने खेल पर गर्व करते थे. और जब वह इस तरह आउट हो गए तो वह अगले दो दिन तक सो नहीं पाए. मैच वाली पूरी रात वह बेहद निराश रहे. मैंने उन्हें इस तरह निराश होते कभी नहीं देखा था. उनकी यह निराशा सिर्फ आउट होने को लेकर नहीं थी, जिस तरह से हम मैच हारे थे, उससे भी वह दुखी थे.’

हेनरी ओलोंगा ने उस मुकाबले में 46 रन देकर 4 विकेट झटके थे. उन्होंने सचिन, सौरव, राहुल और अजय जडेजा के विकेट लेकर भारतीय टॉप ऑर्डर को उखाड़ फेंका था. हालांकि अगले ही मुकाबले में भारत ने जिम्बाब्वे को दमदार जवाब दिया था. सचिन ने जिम्बाब्वे के खिलाफ नाबाद शतक जड़कर भारत को 10 विकेट से जीत दिलाई थी. जडेजा बताते हैं, ‘उन्हें (सचिन) दो दिन का इंतजार करना पड़ा और फाइनल मुकाबले में आपने देखा होगा कि उन्होंने क्या किया था.’

पहले काफी मजबूत हुआ करती थी जिम्बाब्वे की टीम
जिम्बाब्वे की टीम उस दौर में काफी मजबूत हुआ करती थी. इस टीम में तब एंडी फ्लावर, ग्रांट फ्लावर, हीथ स्ट्रीक, एलिस्टर कैंपबेल, ओलोंगा और पॉमी जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी हुआ करते थे. कोको कोला चैंपियंस ट्रॉफी 1998 में इस टीम ने श्रीलंका को पछाड़कर फाइनल में जगह बनाई थी, जहां उसे भारत के हाथों शिकस्त झेलना पड़ी थी.

यह भी पढ़ें..

Virat Kohli: पूर्व कोच ने सुनाया विराट के डेडिकेशन का किस्सा, बोले- स्लिप फील्डिंग बेहतर करने के लिए हर दिन पकड़ते थे 100 कैच

IND vs PAK: शोएब अख्तर ने याद किए अपनी गेंदबाजी वाले दिन, बोले- ‘सचिन को छोड़कर हर कोई मुझसे डरता था’

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.