National Wheels

उदयपुर-अहमदाबाद रेलमार्ग पर विस्फोट कर ट्रैक उड़ाया, बड़ी साजिश की आशंका

उदयपुर-अहमदाबाद रेलमार्ग पर विस्फोट कर ट्रैक उड़ाया, बड़ी साजिश की आशंका

राजस्थान में उदयपुर से अहमदाबाद जाने वाले नवनिर्मित रेलमार्ग को विस्फोट से उड़ाकर बड़े हादसा कराने की असफल साजिश सामने आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है। घटना की जांच में आरपीएफ, जीआरपी, राजस्थान पुलिस, एटीएस के साथ एनआईए को भी लगाया गया है। आशंका जताई जा रही है कि बड़ा ट्रेन हादसा कराकर गुजरात चुनाव को प्रभावित करने की साजिश का भी यह हिस्सा हो सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 दिन पहले ही इस रेलवे लाइन का उद्घाटन किया है। इस पर रेल सेवा भी शुरू की गई थी। एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें यह बताया जा रहा है कि शनिवार रात करीब 10 बजे अड्डा ब्रिज पर विस्फोट हुआ। तेज आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीण पहुंचे तो रेल पटरी की दशा देख सन्न रह गए।

रेलवे ट्रैक पर बारूद बिखरा हुआ मिला है। एक हिस्सा ट्रैक का टूट चुका है। दूसरे हिस्से में भी रेल पटरी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। आशंका है कि पुल के निचले हिस्से में विस्फोटक लगाकर ट्रैक को उड़ाने की कोशिश की गई है। घटना से पांच घंटे पहले ही पुल से ट्रेन गुजरी थी। यदि इन टूटी पटरियों पर ट्रेन आती तो भयानक दुर्घटना तय थी।

सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि मोरबी पुल को जानबूझकर तोड़कर गुजरात चुनाव में भाजपा की छवि खराब करने की कोशिश की गई। अहमदाबाद जाने वाले रेलमार्ग को क्षतिग्रस्त कर फिर नाकाम कोशिश की गई है। संयोग है कि ग्रामीणों की सतर्कता से बड़ा-सा टल गया।

रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव ने कहा है कि उदयपुर से करीब 35 किलोमीटर दूर एक ट्रैक पर धमाका हुआ। एटीएस, एनआईए और रेलवे के आरपीएफ की टीमें मौके पर हैं। जांच चल रही है। आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। पुल के जीर्णोद्धार के लिए टीम मौके पर मुस्तैद है। प्रारंभिक जांच होते ही 3-4 घंटे के भीतर ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू हो जाएगा। हमने इसकी जांच के लिए सर्वोत्तम संभव टीमों को तैनात किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.