National Wheels

आखिर धरने पर क्यों बैठे हैं,राजा भैया के पिता राजा उदय प्रताप सिंह?

आखिर धरने पर क्यों बैठे हैं,राजा भैया के पिता राजा उदय प्रताप सिंह?

सौरभ सिंह सोमवंशी, लखनऊ 

कुंडा (प्रतापगढ़ )। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में सड़क पर बन रहे मजहबी गेट के विरोध में राजा भइया के पिता राजा उदय प्रताप सिंह नाराज हो गए हैं।

उन्होंने अपनी नाराजगी को जाहिर करते हुए कुंडा तहसील परिसर में धरना देना शुरू कर दिया है। राजा भइया के पिता भदरी नरेश राजा उदय प्रताप सिंह की मांग है की सड़क पर अतिक्रमण करके बनाए जा रहे मजहबी गेट को तुरंत हटाया जाए। राजा उदय प्रताप सिंह ने कहा कि तक इस गेट को नहीं हटाया जाता तब तक वह धरने पर बैठे रहेंगे। बता दें कुंडा तहसील क्षेत्र के शेखपुर आशिक गांव में पीडब्ल्यूडी की सड़क पर अतिक्रमण कर मजहबी गेट बनाया जा रहा है। राजा भइया के पिता राजा उदय प्रताप सिंह का कहना है कि धर्म विशेष के लोगों द्वारा इस तरह का मजहबी गेट बनाकर हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा कार्य पीडब्ल्यूडी की जमीन पर अतिक्रमण करके किया जा रहा है। पीडब्ल्यूडी विभाग को इस पर एक्शन लेना चाहिए किंतु न तो पीडब्ल्यूडी विभाग न हीं तहसील प्रशासन और न ही जिला प्रशासन इस पर कार्यवाही कर रहा है। देर शाम तक सीओ कुंडा मामले को सुलझाने के लिए डटे रहे लेकिन सफल ना हो सके कुंडा तहसील के अधिवक्ताओं ने भी राजा उदय प्रताप सिंह के धरने का समर्थन किया है।

क्या है मामला?

राजा उदय प्रताप सिंह का कहना है की  शेखपुरा आशिक गांव में एक विशेष समुदाय के द्वारा बनाए गए गेट पर उनकी भाषा में कुछ लिखा है और इसके नीचे से होकर हर समुदाय के लोगों को गुजारना पड़ रहा है जिससे उनके धार्मिक भावना को ठेस पहुंच रही है कुछ दिनों पहले ट्वीट कर उन्होंने मामले को मुख्यमंत्री तक पहुंचाने का प्रयास किया था परंतु कोई कार्यवाही नहीं होने पर उन्होंने यह फैसला लिया है

उन्होंने कहा कि यह परंपरा गलत है अगर लाउडस्पीकर  हटाने की परंपरा को समाप्त किया जा सकता है तो इसे भी समाप्त किया जाना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.