यूपी के छह पुराने मेडिकल कॉलेजों में जूनियर डॉक्टरों के 484 नए पद स्वीकृत

उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए योगी सरकार ने 6 पुराने मेडिकल कॉलेजों में जूनियर डॉक्टरों के 484 नए पद स्वीकृत कर दिए हैं. उम्मीद है कि नए डॉक्टरों की संख्या बढ़ने से संबंधित मेडिकल कॉलेजों में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर होंगी. यहां पहुंचने वाले मरीजों को तेजी के साथ उपचार मुहैया कराने में मदद मिलेगी.
यूपी की गोरखपुर, मेरठ, झांसी, इलाहाबाद, कानपुर और आगरा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टरों के पदों में बढ़ोतरी के लिए लंबे समय से मांग चल रही थी. चिकित्सकों की कमी के कारण इन मेडिकल कॉलेजों में पहुंचने वाले मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने में दिक्कत हो रही थी. इसे देखते हुए सरकार ने 484 नए पदों को स्वीकृति दी है. इससे यह भी साफ हुआ कि अब 484 नए छात्रों को मेडिकल सेवा में चयनित होने का भी मौका मिलेगा. उत्तर प्रदेश सरकार के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि इससे स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही 12 जिला अस्पतालों को मेडिकल कॉलेज के रूप में अपग्रेड करने की सुस्त पड़े काम में तेजी लाने के लिए कैबिनेट ने निर्देश दिए हैं. इन जिला अस्पतालों को अपग्रेड करने के बाद मेडिकल कॉलेज की सभी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी.
@UPGovt ने राजकीय मेडिकल कॉलेज कानपुर, आगरा, झांसी, इलाहाबाद, गोरखपुर और मेरठ में मरीजों के लिये बेहतर उपचार और प्रबंधन व्यवस्था करने के उद्देश्य से नॉन पी.जी. जूनियर रेजीडेंट डॉक्टरों के 484 पदों को सृजित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई । @MhfwGoUP @nhm_up @UPGovt @BJP4UP

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *