यूपी में पीसीएस बनना हैं तो ऐसे करें पढ़ाई, जानिए विशेषज्ञ की राय

सौरभ सिंह सोमवंशी

हमारे देश की सबसे बड़ी परीक्षा आईएएस की मानी जाती है जिसे जिसे भारतीय सिविल सेवा भी कहा जाता है लेकिन किसी भी राज्य के भीतर आईएएस की तर्ज पर होने वाली परीक्षा अर्थात पी सी एस सबसे बड़ी परीक्षा होती है जो उत्तर प्रदेश में इसकी प्रारंभिक परीक्षा 28 अक्टूबर को प्रस्तावित है पीसीएस यानी प्रोविंशियल सिविल सर्विसेज वह मार्ग है जो व्यक्ति को उत्तर प्रदेश सरकार में प्रशासनिक करियर के लिए अग्रसर करता है चूंकि अब बहुत ज्यादा दिन नहीं बचे हैं इसलिए आपको बता दें कि इसकी तैयारी कैसे की जाए जिसके लिए इसके पाठ्यक्रम के बारे में जानना बहुत ज्यादा जरूरी है यह परीक्षा 3 चरणों में होती है
1. प्रारंभिक परीक्षा: इसमें दो प्रश्न पत्र होते हैं पहला प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन का होता है जिसमें 150 प्रश्न 200 अंक के होते हैं दूसरा प्रश्न पत्र सिविल सर्विस एप्टिट्यूड टेस्ट का होता है जिसमें 100 प्रश्न 200 अंक के होते हैं दूसरा प्रश्न पत्र केवल उत्तीर्ण करना होता है जबकि प्रथम प्रश्न पत्र के आधार पर द्वितीय चरण यानी मुख्य परीक्षा में शामिल किया जाता है।

2. मुख्य परीक्षा: मुख्य परीक्षा में कुल 8 प्रश्न पत्र होते हैं जिसमें 4 पश्न पत्र सामान्य अध्ययन के होते हैं दो प्रश्न पत्र वैकल्पिक विषय के होते हैं प्रत्येक 200 अंक के होते हैं इसके अलावा दो प्रश्न पत्र सामान्य हिंदी और निबंध के लिए है जिसमें से प्रत्येक के लिए 150 अंक निर्धारित किया गया है इस प्रकार से मुख्य परीक्षा कुल 15 सौ अंक की होती है इसी की मेरिट के आधार पर तृतीय चरण यानी साक्षात्कार में प्रवेश मिलता है।
3. साक्षात्कार: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के द्वारा वर्ष 2018 से साक्षात्कार के लिए 100 अंक निर्धारित किया गया है जिसमें अभ्यर्थियों की रूचि, शैक्षणिक बैकग्राउंड, सामान्य जागरूकता, बुद्धि, वाक्पटुता, चरित्र ,अभिव्यक्ति शक्ति और व्यक्तित्व की जांच की जाती है और अंत में मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के अंगों को मिलाकर फाइनल मेरिट के आधार पर अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है ।ं
पिछले तीन दशकों में ऐसा पहली बार हुआ है कि उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग पीसीएस के लिए इतने बड़े पैमाने पर भर्ती करा रहा है जिसमें 56 तरह के पद शामिल हैं इसके लिए 6:30 लाख से अधिक अभ्यर्थी आवेदन कर चुके हैं यह परीक्षा उत्तर प्रदेश के 30 जिलों में करवाई जाएगी एसडीएम 119पद डिप्टी एसपी के 94 पद जीआईसी प्रधानाचार्य के 62 पद जिला सूचना अधिकारी के 46 पद बीडीओ के 6 पद जिला पूर्ति अधिकारी के 58 पद उत्तर प्रदेश निबंधक के 21 पद और सर्वाधिक संख्या एक्साइज इंस्पेक्टर 156 पद है इसके अलावा पुलिस उपाधीक्षक जिला पंचायत अधिकारी चकबंदी अधिकारी और सेवायोजन अधिकारियों के लिए पद रिक्त हैं।
ऐसे करें तैयारी: सबसे पहले तो PCS क्वालीफाई करने के लिए खुद को मानसिक तौर पर इस यकीन के साथ तैयार करें कि आप इस परीक्षा को क्लियर कर सकते हैं क्योंकि इस तरह की परीक्षा में सकारात्मक सोच का बहुत बड़ा महत्व होता है, इसके अलावा PCS उम्मीदवार अब पहले की तुलना में ई बुक व वीडियोस पर ज्यादा ध्यान एवं दिलचस्पी दिखा रहे हैं इंटरनेट पर पीसीएस उम्मीदवारों के दिलचस्पी को देखते हुए तमाम शिक्षण संस्थाओं ने ऐसी वेबसाइट बनाई है जहां पर तैयारी के लिए अध्ययन सामग्री, टेस्ट सीरीज ,डिस्कशन फोरम आदि आसानी से उपलब्ध हो जाता है इसके अतिरिक्त अभ्यर्थी घटनाचक्र पूर्वावलोकन की 8 किताबों वाली सीरीज खरीद कर तैयारी करें तो यह भी उनके लिए काफी लाभकारी साबित होगा ।
पीसीएस की मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए कई किताबें लिख चुके व राज्यपाल द्वारा सम्मानित मणि सर क्लासेज के समाज कार्य के विशेषज्ञ इंजीनियर दुर्गेश त्रिपाठी के अनुसार मुख्य परीक्षा के लिए आवश्यक यह है कि किसी भी टॉपिक को पूरा पढ़ें और उसका विश्लेषण करें इससे मुख्य परीक्षा वह निबंध में काफी फायदा मिलेगा इसके अलावा अभ्यर्थी नेशनल व्हील्स की वेबसाइट पर आकर विभिन्न विषय जैसे समसामयिक मुद्दे, राजनीति, सामाजिक मुद्दे और विश्लेषण पर हमारे विशेषज्ञों द्वारा लिखे गए आर्टिकल से भी काफी मदद ले सकते हैं जो उनको मुख्य परीक्षा के लिए काफी लाभ दे सकता है अंत में पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने वाले सभी अभ्यर्थियों को ढेर सारी शुभकामनाएं ।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *