रेलवे बोर्ड चेयरमैन का निर्देश, समय से चलाएं ट्रेनें

– नौचंदी, सरयू, गंगा गोमती और एजे ट्रेनों को प्रयागघाट से चलाने के लिए एनसीआर का प्रस्ताव स्वीकार

– वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी महाप्रबंधकों को जारी किया फरमान

इलाहाबाद। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी ने शनिवार को ट्रेनों को समय से चलाने और इस काम में आने वाली बाधाओं को तत्काल दूर करने का निर्देश महाप्रबंधकों को दिया. वह महाप्रबंधकों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उत्तर-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक श्री एमसी चौहान ने बताया कि इलाहाबाद जंक्‍शन से 4 गाड़ियों (नौंचंदी, सरयू, एजे पैसेन्‍जर एवं गंगा गोमती) को प्रयाग से चलाने का सुझाव रेलवे बोर्ड द्वारा स्वीकार कर लिया गया और इसका क्रियान्वयन प्रयाग घाट रेलवे स्टेशन के विकास के बाद किया जाएगा.
कांफ्रेंस के दौरान श्री लोहानी ने कहा कि एसेट फ़ेलीयर्स को नियंत्रित किया जाना चाहिए . एसेट मेन्टेनेन्स के लिए निश्चित समय के अंदर रखरखाव होना चाहिए. लंबी अवधि के अधिक ब्लॉक के संदर्भ में कहा कि यह अति महत्वपूर्ण है कि ‘ब्लॉक बर्स्टिंग’ न हो. हमें समयपालन में  सुधार के साथ रखरखाव और बुनियादी ढांचे के विकास की चुनौतियों को पूरा करने के लिए सौ फीसदी प्रयास करना होगा.
उत्‍तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक ने समय पालन को लेकर सुझाए उपाय
उत्‍तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक श्री एमसी चौहान ने कहा कि ट्रेनों को समय से चलाने के लिए उत्तर मध्य रेलवे में चल रही सात जोड़ी ट्रेनों की गति क्षमता 110 किमी प्रति घंटा से बढ़ाकर 130 किमी प्रति घंटा की गई है. समय को लेकर हर घंटा निगरानी की जा रही है. इस समय महाप्रबंधक स्तर पर 60 ट्रेनों की निगरानी की जा रही है.
उन्होंने बोर्ड से अनुरोध किया कि वे सेक्शन की लाइन क्षमता को मुक्‍त करने और समयपालनता में सुधार करने के लिए एलएचबी कोच युक्त गैर-वातानुकूलित ट्रेनों के 29 जोड़ी गाड़ियों की गति क्षमता को मौजूदा 110 किमी प्रति घंटा से 130 किमी प्रति घंटा तक अपग्रेड करने के लिए अनुमोदन दें. उन्होंने रेलवे बोर्ड से कुछ मालगाड़ियों को उत्तर मध्य रेलवे के अतिव्‍यस्‍ततम रूट (गाजियाबाद-मुगलसराय) से उत्‍तर रेलवे (लखनऊ-सुल्तानपुर-वाराणसी) रूट पर चलाने को कहा. बताया कि यह रूट भी पूरी तरह विद्युतीकृत और डबल लाइन है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *