रेल हादसा में 50 लोगों की मौत के बाद एक मां ने कहा- राहत तो आ गई है, मेरा लाल कभी नहीं आएगा

पंजाब में भीषण रेल हादसा ,रावण दहन देख रहे 50 से ज्यादा लोगों की ट्रेन से कटकर मौत अमृतसर । पंजाब के अमृतसर में बड़ा रेल हादसा हुआ है. पठानकोट से अमृतसर की तरफ
अमृतसर । दशहरा के दिन पंजाब के अमतृसर में शाम का वक्त मौत के वक्त में उस समय बदल गया जब रेल ट्रैक के किनारे रावण दहन देख रहे 50 से ज्यादा लोगों को रेल कुचलते हुए निकल गई. रेलवे और जिला प्रशासन की लापरवाही से कइयों के सिर से माता-पिता का साया चला गया तो कई के बच्चे दुनिया से चले गए, कई महिलाओं का सिंदूर उजड़ गया. भारत सरकार, पंजाब सरकार मुवायजा तो दे देगी , जांच भी बैठा देगी, लेकिन क्या वह उन लोगों को जिंदा कर पाएगी जिनके परिवारीजन इस दुनिया से चले गए ? 

इसी भीड़ में अपने एक बच्चे के चिथड़े हो चुके जिस्म को देखकर बिखर चुकी मां कराहकर कहती है कि राहत तो आ गई है, लेकिन मेरा लाल तो अब कभी नहीं आएगा. यह सच्चाई केवल इस मां की नहीं है, ऐसी कितनी ही मां अपने बच्चों को इस हादसे में खो चुकी हैं.
हादसा में किसी का हाथ नहीं मिल रहा है तो किसी का पैर नहीं मिल रहा है. शरीर में धड़ है तो सिर नहीं. लोगों के जिस्म मिल गए हैं. लाशें इतनी बुरी हालत में हैं कि उन्हें देखने की भी हिम्मत नहीं है. किसी को उसके दोस्त नहीं मिल रहे हैं तो किसी को उसका बेटा नहीं मिल रहा है. कुछ परिवारों की स्थिति ऐसी है कि 4-5 सदस्य लापता हैं. यही मंज़र अस्पतालों का भी है. लोग अपने परिजनों को खोजने के लिए अस्पतालों में पहुंच रहे हैं. कुछ को यह उम्मीद है कि शायद घायलों में उन्हें अपने परिजन मिल जाएं. 

किसी भी जानकारी के लिए इस्तेमाल करें ये दूरभाष नंबर

हेल्पलाइन नंबर
———————

मनावाला रेलवे स्टेशन
बीएसएनएल – 0183-2440024

पावर केबिन, मनावाला रेलवे स्टेशन
बीएसएनएल- 0183-2402927

अन्य सहायता नंबर- 9779232880, 9779232558, 7986897301
अमृतसर रेलवे हेल्पलाइन नंबर- 0183- 2223171, 0183 2564485.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *