शहजाद के सपने में दिखे भगवान श्रीराम तो बन गया संजू, कलक्ट्रेट में लगाए जय श्रीराम के नारे

शामली। धर्म परिवर्तन के हजारों केस सामने आते और जाते हैं. इन विवाद भी खड़ा होता है. जोर-जबरद्स्ती और लालच देने के भी आरोप लगते हैं लेकिन उत्तर प्रदेश के शामली के शहजाद की कहानी जरा हटके है. शहजाद अब संजू बन गया है. उसने हिन्दू धर्म अपना लिया है और इसके लिए उसे न किसी ने प्रेरित किया न ही किसी ने लालच दी या दबाव डाला. एक रात वह सोकर उठा तो उसकी दुनिया ही बदल गई. रात सोने से पहले नमाज पढ़ी थी और सुबह उठकर जय श्रीराम के नारे लगाए. दीपावली पर लक्ष्मी-गणेश की पूजा करने की तैयारी में जुटा है. अचानक हुए उसके इस ह्रदय परिवर्तन से घर-परिवार, मोहल्ले के लोग और जान-पहचान व नाते-रिश्तेदार हैरत में हैं. कइयों ने उसे रोकने-टोकने की भी कोशिश की लेकिन ह्रदय में अंदर से उठी ज्वाला अब नए आकार में सबके सामने धड़क रही है.
शामली के निवासी शहजाद ने धर्म परिवर्तन कर लिया है. उसने अपना व बेटे का नाम भी बदल लिया है. खुद का नाम संजू राणा व बेटे का शेखर राणा रखा है. शहजाद की पत्नी तथा एक बेटे ने धर्म परिवर्तन से इनकार कर दिया. अचानक हुए इस बदलाव के बारे में शहजाद ने बताया कि सपने में श्रीराम आए थे. भगवान ने दर्शन दिया. सपने में ही सही, उनसे तमाम बातें भी हुईं. वह दृष्य कुछ अलौकिक सा महसूस हुआ.
इस कारण सुबह उठने पर ठान लिया कि अब वही होगा जो ईश्वर को मंजूर है. उसने परिवार में हिंदू धर्म अपनाने की चर्चा की तो तूफान खड़ा हो गया. खैर, हरेंद्र नगर शामली निवासी शहजाद पुत्र गफ्फार ने अपने धर्मपरिवर्तन के लिए जिलाधिकारी को शपथ पत्र दिया. शपथ पत्र के अनुसार शहजाद ने अपना नाम बदलकर संजू राणा रख लिया है. उसने लिखा कि उसके पूर्वज सदियों पहले हिंदू धर्म त्यागने के बाद मुस्लिम हो गए थे. इसके बाद भी उसकी आस्था हिंदू धर्म में रही. अब उसने बिना किसी भी दबाव तथा जोर जबरदती के इस्लाम धर्म त्यागकर दुबारा हिंदू धर्म को अपना लिया है. उसने बताया कि एक रात उसने सपने में भगवान श्रीराम का विराट स्वरूप देखा. इसके बाद से ही हिंदू धर्म में वापसी का मन बना लिया. इसके बाद उसने अपना नाम संजू राणा तथा एक बेटे का नाम शेखर राणा रख दिया है. पत्नी और नौ साल के बेटे ने धर्म परिवर्तन नहीं किया है. इस संबंध में जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि शपथ पत्र देने वाले को कार्रवाई के लिए एसपी के पास भेज दिया गया है.
सपने में भगवान राम ने दिए दर्शन
शहजाद ने बताया कि दो महीने पहले वह घूमने के लिए मनाली (हिमाचल प्रदेश) गया. वहां एक प्राचीन मंदिर में उन्होंने मत्था टेका. कुछ दिन पहले उन्हें सपने में भगवान राम दिखाए दिए. उनसे बातचीत भी हुई. उन्हें अपनी मानसिक दशा के बारे में भी बताया. शहजाद का कहना है कि प्रभु ने सपने में दर्शन दिए तो सोच लिया कि अब धर्म बदल लिया है. इसके बाद शहजाद ने शामली के डीएम से धर्म परिवर्तन कर हिंदू धर्म अपनाने की बात कहते हुए पूजा पाठ करने की अनुमति की अर्जी लगाई है.
शहजाद बनाम संजू का कहना है कि काफी समय से उनके सपने में भगवान श्रीराम आते थे और उनसे हिंदू धर्म अपनाने की बात कहते थे. इस कारण  कल  उन्होंने जय श्रीराम के नारे लगाते हुए हिंदू धर्म अपना लिया. संजू का कहना है कि उनके पूर्वज हिंदू थे, जिन्हें कुछ लोगों ने मुस्लिम बना दिया था. आज वह फिर से हिंदू धर्म अपना रहे हैं. संजू का कहना है कि भगवान श्रीराम को वह अपना इष्ट देवता मानते हैं. अब वह हिंदू धर्म के रीति रिवाज के अनुसार जीवन यापन करेंगे. संजू ने कलेक्ट्रेट में बने शिव मंदिर में पूजा अर्चना भी की और भगवान शिव व श्रीराम के नारे लगाए.

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *