JK: आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के 10 परिजनों को किया अगवा, सर्च ऑपरेशन शुरू

हिज्बुल मुजाहिद्दीन के चीफ सैयद सलाउद्दीन के बेटे की गिरफ्तारी का बदला लेने के लिए जम्मू कश्मीर में आतंकी अब कश्मीर पुलिस के परिजनों को निशाना बनाने पर उतर आए हैं. पहले आम नागरिकों और सैनिकों को निशाना बनाने वाले आतंकियों के निशाने पर अब पुलिसकर्मियों के परिजन और रिश्तेदार आ गए हैं. सूचना है कि शुक्रवार तक आतंकियों ने करीब 10 लोगों को अगवा कर लिया है. यह सभी पुलिसकर्मियों के परिजन हैं. जो 10 लोग अगवा किए गए हैं, उनमें पुलिस वालों के बेटे और भाई शामिल हैं. इन सभी की तलाश के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सुरक्षा बलों के साथ में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है. गौरतलब है पिछले 24 घंटे में आतंकियों ने लोगों को अगवा किया.
जिन लोगों को अगवा किया गया है, उनमें पुलिसकर्मी मोहम्मद मकबूल भट्ट के बेटे जुबेर अहमद भट्ट, एसएचओ नजीर अहमद के भाई आरिफ अहमद, पुलिसकर्मी बशीर अहमद के बेटे फैजान अहमद, पुलिसकर्मी अब्दुल सलाम के बेटे सुमेर अहमद, पुलिसकर्मी अब्दुल सलाम के बेटे सुमेर अहमद, DSP एजाज के भाई गौहर अहमद, डीएसपी मोहम्मद शाहिद का भतीजा और पुलवामा से एक पुलिस वाले के भाई को अगवा किया गया है. इसके अलावा पुलवामा से एक पुलिस वाले के भाई को अगवा किया गया है. काकापोरा से पुलिस वाले की बेटे और त्राल से भी एक पुलिस वाले की बेटे को अगवा किया गया है.
आतंकवादियों ने इस घटना को अंजाम दिया, जब एनआईए ने वांछित आतंकवादी सैयद सलाहुद्दीन के दूसरे बेटे को गिरफ्तार किया है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने गुरुवार सुबह श्रीनगर से हिजबुल मुजाहिदीन चीफ सैयद सलाहुद्दीन के बेटे सैयद शकील अहमद को उसके घर से गिरफ्तार किया. आतंकी फंडिंग के मामले में यह गिरफ्तारी की गई है.
पुलिस ने फिलहाल कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है, लेकिन कहा जा रहा है कि अगवा करने संबंधी खबरों का पता लगा रही है. घटना की जानकारी रखने वाले अधिकारियों ने जानकारी दी है कि आतंकवादियों ने कम से कम 5 लोगों को किया कुलगाम, शौपियां, अनंतनाग, अवंतीपोरा से अगवा किया है. इसी घटना में गांदरबल जिले से अगवा किए गए पुलिसकर्मियों के परिजनों को आतंकियों ने बुरी तरह पिटाई करने के बाद छोड़ दिया है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *