अयोध्या में सीएम योगी ने जनकपुर बस सेवा का किया स्वागत, राम जानकी मार्ग पर खर्च होंगे 133 करोड़ रुपए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से जनकपुर से अयोध्या के लिए शुरू की गई बस सेवा का दूसरे दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में स्वागत किया. साथ ही ऐलान किया कि अयोध्या से जनकपुर को जोड़ने के लिए शुरू की गई सड़क परियोजना का नाम राम जानकी मार्ग रहेगा. इस मार्ग के बन जाने से जनकपुर से अयोध्या पहुंचने में 10-12 घंटे की जगह 6 से 7 घंटे ही लगेंगे. इसे पूरा करने में 133 करोड़ रुपए खर्च आने की संभावना है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन प्रसाद और रामायण सर्किट जैसी योजनाओं को मोदी सरकार ने शुरू किया है. इसी उद्देश्य को पूर्ण करने के लिए अयोध्या, नंदीग्राम, श्रृंगवेरपुर, चित्रकूट और श्रीलंका को जोड़ा जा रहा है. जनकपुर का भी अयोध्या से जुड़ना इसी कड़ी का एक हिस्सा है. उन्होंने कहा कि अयोध्या में सरयू स्नान का महत्व है. इसे जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्रतिदिन शाम को सरयू की आरती के कार्यक्रम को सरकार ने आरंभ किया है. वर्षों से रुकी रामलीला के मंचन की परंपरा को भी फिर से शुरू किया गया है. अयोध्या और जनकपुर हजारों वर्ष पूर्व से जुड़े हैं. अयोध्या और जनकपुर को प्रगाढ़ बनाने के लिए दोनों शहरों को बस सेवा से जोड़ा जाए, यह प्रयास माननीय प्रधानमंत्री के कार्यकाल में हुआ और फलीभूत भी हुआ. काठमांडू को काशी और जनकपुर को अयोध्या से सड़क मार्ग से जोड़ने से ना सिर्फ सांस्कृतिक संबंध मजबूत होंगे बल्कि विकास की यात्रा भी आरंभ होगी. अयोध्या से जनकपुर धाम के लिए बस सेवा शुरू होना दोनों राष्ट्रों के संबंधों को और मजबूत करेगा.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *