यूपी लोक सेवा आयोग में सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, 8 टीमों ने मारे ताबड़तोड़ छापे

इलाहाबाद: समाजवादी पार्टी के शासनकाल में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की भर्तियों में हुए भ्रष्टाचार की जांच कर रही सीबीआई ने मंगलवार को इलाहाबाद में बड़ी कार्रवाई की. सीबीआई की 8 टीमों ने लोक सेवा आयोग के कार्यालय में ताबड़तोड़ छापेमारी की.

इन टीमों में करीब 60 सदस्य बताए गए हैं. देर रात तक छापे की कार्रवाई जारी थी. संभावना जताई जा रही है कि पूछताछ के बाद आयुक्त के कुछ संदिग्ध कर्मचारियों और छोटे अफसरों की गिरफ्तारी भी सीबीआई कर सकती है.
सीबीआई पिछले चार महीने से लोक सेवा आयोग की भर्तियों की जांच कर रही है. अब तक की जांच में 2015 में हुई भर्तियों में बड़े पैमाने पर धांधली के प्रमाण CBI को हासिल हुए हैं. इस मामले को लेकर सीबीआई की टीमें अलग-अलग चक्र में लोक सेवा आयोग के अफसरों कर्मचारियों से पूछताछ कर चुकी है. चयनित टॉपर समेत अफसरों से भी पूछताछ की जा चुकी है. इलाहाबाद में ही कैंप कर रही सीबीआई के कार्यालय में मंगलवार की सुबह लखनऊ और दिल्ली से बड़ी संख्या में अफसर पहुंचे. DSP रैंक के 8 अफसरों की अगुवाई में बनाई गई 8 टीमों का नेतृत्व SP राजीव रंजन कर रहे हैं. सभी टीमों को अलग-अलग विभागों में छापेमारी के लिए भेजा गया है. टीमें लोक सेवा आयोग के कर्मचारियों से पूछताछ के साथ-साथ अभिलेखों की छानबीन और जब्ती की कार्रवाई भी कर रही हैं. छापेमारी के संबंध में बुधवार को विस्तृत जानकारी सामने आने की संभावना है. हालांकि, सूत्रों का दावा है कि देर रात तक सीबीआई की टीमें कुछ गिरफ्तारियां भी कर सकती हैं. आयोग के बाद इस मामले में अब तक संदिग्ध पाए गए चयनित पीसीएस अफसरों और आयोग के तत्कालीन चेयरमैन समेत कुछ अफसरों के आवासों पर भी छापेमारी हो सकती है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *