अरबाज ने बयां की शादी टूटने की पीड़ा, कुछ लोग ज्यादा की अपेक्षा रखते हैं

बॉलीवुड में अरबाज खान और मलाइका अरोड़ा की जोड़ी लंबे समय तक आदर्श कपल के रूप में माने जाते थे लेकिन दोनों के रिश्तों में तीसरे के प्रवेश ने एक झटके में 20 वर्ष पुराना वैवाहिक जीवन तोड़ दिया. 2017 में दोनों ने तलाक ले लिया. हालांकि, दोनों के बीच अलगाव की वजहों को लेकर अरबाज और मलाइका अब तक खामोशी ओढ़े रहे. दोनों ने इस बारे में कोई चर्चा नहीं की लेकिन अब करीब डेढ़ साल बाद अरबाज खान ने इस रिश्ते के खत्म होने की वजहों का खुलासा किया है. अरबाज ने पीड़ा बयां की कि वह 19 साल तक इस रिश्ते को बचाने की कोशिश करते रहे लेकिन कामयाब नहीं हो सके.
मलाइका को हमेशा ज्यादा की अपेक्षा
अरबाज ने बताया कि ‘मैंने अपने रिश्‍ते को 19 साल तक बचाने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो पाया.’ अरबाज ने एक चैनल से बातचीत में कहा, ‘लोग बहुत से समझौते और एडजेस्टमेंट के साथ अपने रिश्ते को निभाने की कोशिश करते हैं, चाहे वो कोई भी रिलेशनशिप हो या फिर शादी, हमें यह विश्‍वास होना चाहिए कि हम इसे निभा लेंगे, लेकिन ऐसा हर बार संभव नहीं होता, इंसान हमेशा ज्‍यादा की अपेक्षा रखता है.’
अरबाज ने कहा, ‘जिंदगी में दो तरह के लोग होते हैं. एक तो वह जो सबकुछ होने के बाद भी और ज्‍यादा की डिमांड करते हैं. वह दिखाते हैं कि वह सबसे खुश कपल हैं. वहीं दूसरे कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने पास जितना होता है वे उसी में खुश रहने की कोशिश करते हैं.’
बता दें कि इन दिनों अरबाज और मलाइका दोनों ही अपनी नई रिलेशनशिप के कारण चर्चा में बने रहते हैं. अरबाज को उनकी गर्लफ्रेंड मॉडल जॉर्जिया अंद्रियानी के साथ देखा जा रहा है तो वहीं मलाइका और अर्जुन कपूर हर दिन सुखियां बटोर रहे हैं. खबरों की माने तो अरबाज और मलाइका दोनों ही जल्द अपने नए घर बसाने की योजना बना रहे हैं.
अरबाज ने दिये थे 15 करोड़
यह भी गौरतलब है कि मलाइका ने तलाक के समय अरबाज से एलुमनी अमाउंट के तौर पर 10 करोड़ रुपये की मांग की थी, लेकिन अरबाज ने मलाइका को एलुमनी अमाउंट के तौर पर 15 करोड़ रुपये दिये थे. एक रियलिटी शो ‘पावर कपल’ में अचानक से मलाइका के न आने पर इन दोनों के अलग होने की खबर बाहर आई थी. उस समय मलाइका खान परिवार का घर छोड़कर अपनी बहन अमृता अरोड़ा के साथ रहने लगी थी.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...