About us

नेशनल ह्वील्स यानी राष्ट्र का पहिया। यह हर घटना चक्र का साक्षी भी है। चक्र कभी न थमने वाला। यह 24 घंटे सातों दिन अनवरत अपनी गति से चलता रहता है। इस परिक्रमा के दौरान वह राष्ट्र में घटित हर अच्छे-बुरे का साक्षी भी बनता है। यह घटनाएँ सिर्फ अपराध के रूप में ही घटित नहीं होंती बल्कि दैनिक जीवन, रेल,सड़क, वायु और जल परिवहन के साथ अंतरिक्ष में मानव निर्मित उड़ते यान, उनके विकास और उनसे देश-दुनिया पर पड़ने वाले असर का भी साक्षी बनता है, जो हमारे ऊपर अपरोक्ष या परोक्ष रूप से प्रभाव भी डालता है। वक्त का तकाजा है कि परिवहन जीवन का अहम हिस्सा बन चुका है। दिन-ब-दिन होने वाले इन बदलावों को नेशनल ह्वील्स आप तक पहुंचाएगा।

धर्म और राजनीति मानव सभ्यता के इतिहास के साथ नए दौर में पहुंच चुके हैं। इनके बिना समाज में कोई भी चर्चा बेमानी साबित होगी।

समाज की रचना के साथ ही आपराधिक घटनाएँ भी शुरू हुईं लेकिन नए दौर में अपराध के ट्रेंड बदले हैं। अब संगठित रूप से आर्थिक अपराध बढ़े हैं। इंटरनेट की सर्वसुलभता ने सुविधाओं को हर हाथ तक पहुंचाया। साथ ही

आर्थिक और सामाजिक सुरक्षा पर संकट भी खड़ा कर दिया है। नेशनल ह्वील्स सुझावों के साथ आपको सतर्क व आपकी भागीदारी भी सुनिश्चित करने की कोशिशें भी करेगा।

वक्त है नए भारत के निर्माण का। नया भारत डिजिटल भारत बनेगा। कामकाजी दौर में अब सूचनाएँ लोगों की उंगलियों पर हैं। सोशल मीडिया ने परंपरागत

पत्रकारिता को पीछे ढकेल दिया है। इस आभासी दुनिया ने देशों की सीमाओं के बंधन तोड़ दिए हैं। यह दौर वैश्विक समाज के निर्माण का है। नेशनल ह्वील्स आपको वैश्विक समाज से जोड़ने में मददगार के तौर पर आपके साथ रहेगा। विचारों के आदान-प्रदान के लिए www.nationalwheels.com पर पब्लिक कोना आपके लिए हमेशा खुला रहेगा। इसके जरिए आपको खुला मंच देने की भी कोशिश होगी।