उम्र में 20 साल छोटे योगी आदित्यनाथ के दो बार रमन सिंह ने छुए पैर

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने मंगलवार को राजनांदगांव विधानसभा सीट के लिए नामांकन दाखिल किया. कलेक्ट्रेट परिसर में नामांकन दाखिल करने के दौरान उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह, उनके पुत्र तथा सांसद अभिषेक सिंह और छत्तीसगढ़ में भाजपा के प्रभारी अनिल जैन समेत अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे. मुख्यमंत्री रमन सिंह ने नामांकन दाखिल करने के दौरान योगी आदित्यनाथ के चरण स्पर्श कर उनसे आशीर्वाद लिया. मुख्यमंत्री सिंह राजनांदगांव विधानसभा सीट से पिछले दो बार से विधायक हैं.
रमन सिंह ने योगी आदित्यनाथ के एक बार नहीं, बल्कि दो बार पैर छुए. पहली बार जब उन्होंने पैर छुए तो वह क्षण कैमरे में पूरी तरह से कैद नहीं हुआ. फोटो और वीडियो ले रहे लोगों ने उनसे दोबारा पैर छूने के लिए कहा, तो उन्होंने योगी आदित्यनाथ के दोबारा पैर हुए. उन्होंने मिशन 65 की सफलता के लिए योगी से आशीर्वाद लिया. इस दौरान रमन ने कहा कि राजनांदगांव और प्रदेश की जनता का प्यार भाजपा को हमेशा मिलता रहा है और आगे भी मिलेगा.
20 साल छोटे हैं योगी आदित्यनाथ
डेढ़ साल पहले यूपी के मुख्यमंत्री बने 46 वर्षीय सीएम योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को हुआ था. वहीं 66 वर्षीय डॉ. रमन सिंह का जन्म 15 अक्टूबर 1952 को हुआ था. वह देश के चौथे सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने वाले शख्स हैं. 15 साल से वह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री हैं. वहीं योगी आदित्यनाथ डेढ़ साल पहले यूपी के सीएम बने हैं. वह राजनीति में भी डॉ. रमन सिंह से काफी जूनियर हैं.
रमन सिंह ने जब राजनीति में प्रवेश किया, उस समय जन्मे भी नहीं थे योगी
रमन सिंह ने अपनी राजनीति जनसंघ के साथ 1970 में ही शुरू कर दी थी. उस समय योगी आदित्यनाथ का जन्म भी नहीं हुआ था. 1976-77 में ही डॉ. रमन सिंह पार्टी की यूथ विंग के अध्यक्ष बन गए थे.

अटलजी की भतीजी करुणा हैं रमन के खिलाफ

कांग्रेस ने मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ अटल बिहारी बाजपेयी की भतीजी करूणा शुक्ला को उम्मीदवार घोषित किया है. अपना नामांकन दाखिल करने से पहले मुख्यमंत्री रमन सिंह ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि उन्हें राज्य में बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं की ताकत पर पूरा भरोसा है. भाजपा ने यह चुनाव अटल जी को समर्पित किया है तथा एक-एक कार्यकर्ता ने संकल्प लिया है कि भारी बहुमत के साथ चौथी बार भाजपा की सरकार बनाएंगे. उन्होंने करूणा शुक्ला को कांग्रेस उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर कहा कि कांग्रेस को कोई स्थानीय उम्मीदवार नहीं मिला.
छत्तीसगढ़ में हो रहे विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान के लिए आज शाम तक नामांकन दाखिल किए जा सकेंगे. राज्य में दो चरणों में निर्वाचन कार्य संपन्न होगा. प्रथम चरण में 12 नवंबर को 18 विधानसभा क्षेत्रों में तथा दूसरे चरण में 20 नवंबर को शेष 72 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा.

12 नवंबर को पहले चरण का मतदान

प्रथम चरण में 12 नवंबर को बस्तर क्षेत्र के जिले बस्तर, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा में तथा राजनांदगांव जिले की 18 सीटों के लिए मतदान होगा. छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों से कांग्रेस सत्ता से बाहर है तथा इस बार के चुनाव में वह सत्ता वापसी की कोशिश में है. वहीं भाजपा इस चुनाव में 65 से अधिक सीटों में जीत हासिल कर चौथी बार सरकार बनाना चाहती है. राज्य में वर्ष 2013 में हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 90 सीटों में से 49 सीटों पर तथा कांग्रेस को 39 सीटों पर जीत मिली थी. वहीं एक एक सीटों पर बसपा और निर्दलीय विधायक जीते थे.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *