दिल्ली: 11वीं की छात्रा को बांधकर 10 दिन तक रेप, बेल्ट और लोहे की तार से पीटा भी

दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के कठुआ और उत्तर प्रदेश के उन्नाव गैंगरेप की घटनाओं से पूरा उत्तरी भारत जल रहा है, इसी बीच राष्ट्रीय राजधानी से झकझोरने वाली खबर आई है। बताते हैं कि आउटर दिल्ली के अमन विहार इलाके में 11वीं क्लास की एक छात्रा को बांधकर 10 दिन तक रेप किया गया। यही नहीं इस दौरान दरिंदे ने छात्रा के साथ बंद कमरे में मारपीट भी की। अमन विहार पुलिस थाने में लड़की की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। फिलहाल, आरोपी फरार है।

10 दिन तक रेप
जानकारी के मुताबिक, ये घटना 30 मार्च की है, जब पीड़िता को कुलदीप (30) नाम के एक शख्स ने अगवा कर लिया था। आरोपी ने छात्रा को 10 दिनों तक बंधक बना कर रखा। लड़की के साथ कुलदीप ने कई बार रेप किया। लड़की के हाथ पैर बांधकर उसे बेल्ट और लोहे के तार से पीटा भी गया। परिजनों के अनुसार पीड़िता घर से बाहर कुछ सामान लेने के लिए गई थी। तभी कुलदीप नाम के एक लड़के ने तमंचे के बल पर उसे किडनैप कर लिया।
पीड़िता की शिकायत के मुताबिक, पहले दिन जब रेप का विरोध किया तो उसे बेल्ट और लोहे की राड से पीटा गया। छात्रा के मुताबिक, अगले दिन कुलदीप ने उसके हाथ-पैर बांधे, मुंह पर कपड़ा बांधा और कमरे में बंद कर ऑफिस चला गया। शाम को लौटने पर शराब पीकर फिर से उसका रेप किया।
छात्रा के शरीर पर चोट के कई निशान भी बताए जा रहे हैं। रेप की घटना के बाद छात्रा को एक सरकारी अस्पताल में मेडिकल ट्रीटमेंट दिया गया है। वहीं एक एनजीओ के लोगों के द्वारा छात्रा की काउंसलिंग भी कराई गई है।
पीड़िता ऐसे भागी दरिंदे के चंगुल से
बीते 9 अप्रैल को कुलदीप बाहर जाते समय पीड़िता को बांधना भूल गया, जिसके बाद छात्रा किसी तरह भागने में कामयाब हो गई। वहां से भागने के बाद पीड़िता सीधे अपने घर पहुंची और पूरी वारदात के बारे में घरवालों को जानकारी दी। पीड़िता के परिवारवाले तुरंत लड़की को लेकर थाने पहुंचे और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पीड़ित परिवार का आरोप है कि लड़की के गायब होने के बाद से ही वो कई बार अमन विहार पुलिस स्टेशन गए थे, लेकिन पुलिसवालों ने उनकी कोई मदद नहीं की।
इन धाराओं में दर्ज हुआ केस
पुलिस ने आरोपी कुलदीप पर आईपीसी की धारा 345D, 365, 344, 323 और 376 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस आरोपी को पकड़ने के लिए उसके घरवालों से पूछताछ कर रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *